35. सबसे बड़ी आज्ञा | Free Online Bible Classes

Lecture 35: 35. सबसे बड़ी आज्ञा

सबसे महत्वपूर्ण और बड़ा कार्य आप क्या कर सकते हैं? परमेश्वर हमसे मुख्य रूप से क्या चाहता है? यह है कि हम अपनी सम्पूर्णता से उससे पे्रम करें। हमारा प्रेम भावनात्मक अवश्य होना चाहिये (केवल आज्ञाकारिता ही नहीं) और व्यक्तिगत होना चाहिये (कि हम परमेश्वर से प्रेम करे न कि उससे सम्बन्धित वस्तुओं से)। यदि हम परमेश्वर से प्रेम करते हैं तो हमें अपने पड़ोसी से भी अवश्य पे्रम करना चाहिये। 

Speaker