32. सब बातों से बढ़कर परमेश्वर को खोजें

चिन्ता इस बात के भ्रम को लाती है कि हमारे पास भी कुछ नियन्त्रण है और चिन्ता से भी कुछ प्राप्त किया जा सकता है। परन्तु यह ऐसा कुछ भी नहीं करती है। चेलों को परमेश्वर पर अटूट विश्वास रखना चाहिये। जब हम देखते हैं कि परमेश्वर अपनी सृष्टि की देखभाल कैसे करता है तो हम इस बात को समझ सकते हैं कि वह हमारी भी देखभाल करेगा। हमारा ध्यान परमेश्वर के राज्य और उसकी धार्मिकता की खोज होनी चाहिये और बदले में वह हमारी सारी जरूरतों को पूरा करेगा।

Speaker