34. शिष्यता | Free Online Bible Classes

Lecture 34: 34. शिष्यता

जब यीशु हमसे कहते हैं कि मेरे पीछे चलो, तो किसी एक व्यक्ति ने कहा है कि आओ और मरो। अपनी व्यक्तिगत महात्वकाक्षाओं के लिये मर जाना, और प्रतिदिन वैसे जियें जैसे आप अपने लिये मर गए हो और प्रभु के लिये जियें। स्वर्ग में केवल चेले ही होंगे।

Speaker