6. यूसुफ

उत्पत्ति 37-50 अधयायों में यूसुफ की कहानी मिलती है जो परमेश्वर की प्रतिज्ञाओं के प्रति विश्वासयोग्यता का वर्णन है। जो उसने इब्राहीम से की थी कि वह सर्वशक्तिमान है और वह सर्वज्ञानी है। यूसुफ के भाइयों ने उसे गुलामी में बेंच दिया था परन्तु परमेश्वर ने उन लोगों की बुराई को भी भलाई में बदल दिया - कि इब्राहीम की पूरे राष्ट्र की सन्ताने छुटकारा पाएँ। हमें भी परमेश्वर की प्रतिज्ञाओं पर विश्वास करने के लिये बुलाया गया है।

Speaker